/

April 2024 -

यह सेडान सिर्फ खूबसूरत है बल्कि दमदार भी है, इसे देखते ही आपका इसे खरीदने का मन करेगा।

यह सेडान सिर्फ खूबसूरत है बल्कि दमदार भी है, इसे देखते ही आपका इसे खरीदने का मन करेगा।

20 लाख से कम कीमत में बेस्ट सेडान: दरअसल, देश के बाजार में एसयूवी की सबसे ज्यादा डिमांड है। लेकिन लोग आज भी सेडान सेगमेंट की कारों को पसंद करते हैं। आपको बता दें कि सेडान सेगमेंट की कारों में आपको आकर्षक लुक के अलावा प्रीमियम इंटीरियर और आधुनिक फीचर्स मिलते हैं। अगर आप भी नई सेडान खरीदने की सोच रहे हैं। तो इस रिपोर्ट में आपको कुछ पॉपुलर सेडान के बारे में जानकारी मिलेगी।

हुंडई वेरना

इस लिस्ट में पहली सेडान है Hyundai Verna। जिसमें आपको 1.5-लीटर टर्बो-पेट्रोल इंजन मिलता है। कंपनी ने यही इंजन Creta, Seltos, Carens और Alcazar में भी इस्तेमाल किया है। यह इंजन 160hp पावर के साथ-साथ 253Nm पीक टॉर्क पैदा करने की क्षमता रखता है। इसके साथ आपको 6-स्पीड मैनुअल और 7-स्पीड डुअल-क्लच ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन का विकल्प मिलता है। इसके टर्बो वेरिएंट को आप 14.87 लाख रुपये से 17.42 लाख रुपये की कीमत पर खरीद सकते हैं।

वोक्सवैगन वर्टस और स्कोडा स्लाविया

फॉक्सवैगन वर्टस और स्कोडा स्लाविया दोनों कंपनियों की लोकप्रिय सेडान हैं। ये दोनों MQB-A0-IN प्लेटफॉर्म पर बने हैं और समान 1.5-लीटर, 4-सिलेंडर टर्बो-पेट्रोल इंजन द्वारा संचालित हैं। इनमें मिलने वाला इंजन 150hp पावर और 250Nm टॉर्क जेनरेट करने की क्षमता रखता है।

6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स के अलावा 7-स्पीड डुअल-क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स विकल्प के तौर पर दिया गया है। इनकी कीमत की बात करें तो स्लाविया 1.5 टीएसआई की शुरुआती कीमत 15.23 लाख रुपये है। तो Virtus GT रेंज (1.5 TSI) के बेस वेरिएंट की कीमत 16.62 लाख रुपये है।

होंडा सिटी हाइब्रिड

कंपनी की खूबसूरत डिजाइन वाली सेडान होंडा सिटी e:HEV 1.5-लीटर पेट्रोल इंजन के साथ आती है। जिसे एक इलेक्ट्रिक मोटर के साथ भी जोड़ा गया है। इसकी क्षमता 126hp पावर और 253Nm टॉर्क जेनरेट करने की है। बाजार में यह आपको 20.55 लाख रुपये की कीमत पर मिल जाएगा.

CSK vs SRH: धोनी ने बनाया ऐतिहासिक रिकॉर्ड, जिसने हासिल किया ये कारनामा वो बन गया दुनिया का नंबर वन खिलाड़ी

CSK vs SRH: धोनी ने बनाया ऐतिहासिक रिकॉर्ड, जिसने हासिल किया ये कारनामा वो बन गया दुनिया का नंबर वन खिलाड़ी

एमएस धोनी आईपीएल 2024: क्रिकेट जगत में जब किसी सफल कप्तान और फिनिशर बल्लेबाज की बात आती है तो भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह का नाम सबसे पहले आता है। उन्होंने न सिर्फ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बल्कि आईपीएल में भी खूब नाम कमाया है. चाहे वह कप्तान के रूप में बड़े फैसले हों या विकेट के पीछे कैच और स्टंपिंग के साथ शानदार बल्लेबाजी।

CSK vs SRH: माही ने हर तरह से फैंस का दिल जीतने का काम किया है. हालांकि धोनी इस सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी नहीं कर रहे हैं, लेकिन विकेट के पीछे उनका स्टैंड काफी अहम माना जा रहा है. इसी बीच रविवार को हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेले गए मैच में महेंद्र सिंह धोनी ने एक खास उपलब्धि हासिल की. उनके नाम एक ऐसा रिकॉर्ड बना, जो दूसरे खिलाड़ियों के लिए मील का पत्थर साबित होगा

धोनी ने हासिल कर लिया यह बड़ा कीर्तिमान

चेन्नई सुपर किंग्स(सीएसके) के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह ने क्रिकेट में नए-नए कीर्तिमान गढ़ने माहिर खिलाड़ी माने जाते हैं। आईपीएल में उन्होंने 259 मुकाबले खेले हैं। इसके साथ ही वे आईपीएल लीग के सबसे ज्यादा मैच खेलने वाले खिलाड़ी भी बन गए। सबसे खास बात कि वे 150 जीते हुए मैच का हिस्सा रहे।

ऐसा कीर्तिमान प्राप्त करने वाले आईपीएल में वे दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए हैं। आईपीएल में सबसे ज्यादा मैच जीतने के मामले में अभी तक कोई भी खिलाड़ी एमएस धोनी के आस पास नहीं है। इस मामले में दूसरा नंबर रोहित शर्मा का आता है जो 133 मैचों में जीत का हिस्सा रहे हैं।

तीसरे नंबर पर रवींद्र जडेजा, जो 133 मुकाबले में जीत का हिस्सा बने। चौथो नंपर पर दिनेश कार्तिक 125 मैचों की जीत में शामिल रहे। पांचवें पर सुरेश रैन हैं, जिनके नाम 122 जीत दर्ज हैं।

कैसा रहा धोनी का आईपीएल करियर

महेंद्र सिंह धोनी ने पहले ही सेशन से चेन्नई सुपर किंग्स के लिए क्रिकेट खेला है। धोनी ने आईपीएल में अभी क 39.53 की औसत से 5178 रन बनाए हैं। जिसमें 24 अर्धशतक शामिल हैं। एमएस धोनी आईपीएल के सबसे सफल कप्तानों में से एक भी गिने जाते हैं। उनकी कप्तानी में चेन्नई सुपर किंग्स ने 5 आईपीएल खिताब अपने नाम किए हैं।

वह साल 2008 से ही चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेल रहे हैं। जानकारी के लिए बता दें कि चेन्नई ने 20 ओवर में 3 विकेट के नुकसान पर 212 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद ने जवाब में 18.5 ओवर में 134 रन ही बनाकर ढेर हो गई।

बंगाल: संदेशखाली मामले में बीजेपी नेता की मांग, सीएम ममता को गिरफ्तार करें, टीएमसी पर बैन लगाएं

बंगाल: संदेशखाली मामले में बीजेपी नेता की मांग, सीएम ममता को गिरफ्तार करें, टीएमसी पर बैन लगाएं

संदेशखाली से सीबीआई द्वारा हथियार और गोला-बारूद बरामद करने के बाद बीजेपी ने टीएमसी पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं.

शुक्रवार को राज्य में लोकसभा के दूसरे चरण के मतदान के दौरान, सीबीआई और एनएसजी बम दस्ते ने संदेशखाली और उत्तर 24 परगना जिले में छापेमारी की। छापेमारी में अबू तालेब के घर से कई हथियार और भारी मात्रा में गोला-बारूद बरामद हुआ. स्थानीय टीएमसी नेता हफ़ज़ुल खान के रिश्तेदार, जिन पर अब निष्कासित सत्तारूढ़ पार्टी के मजबूत नेता शेख शाहजहाँ का करीबी सहयोगी होने का आरोप है।

मेदिनीपुर से भाजपा उम्मीदवार अग्निमित्रा पॉल ने संदेशखाली मामले में टीएमसी और ममता बनर्जी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि ममता किस तरह की महिला है? किस तरह की सीएम हैं? जो हत्यारों, बलात्कारियों और आतंकवादियों का पक्ष ले रही हैं। रिश्वत लेने वालों को बचाने के लिए कोर्ट जा रही हैं। शेख शाहजहां के गुंडे के पास से बम, आरडीएक्स और पिस्तौल बरामद हुई है। उन्होंने कहा कि क्या संदेशखाली जैसी जगहों पर विस्फोट करने की साजिश रची जा रही है?
अग्निमित्रा ने कहा कि हमारी मांग है कि टीएमसी पर प्रतिबंध लगाया जाए और ममता बनर्जी को गिरफ्तार किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी भी यही मांग कर रही है कि टीएमसी पर प्रतिबंध लगाकर ममता बनर्जी को गिरफ्तार किया जाए। उन्होंने ममता बनर्जी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बहुत ही चिंताजनक स्थिति है, जहां खुद सीएम ऐसे हत्यारों, बलात्कारियों को बचाती घूम रही हैं। नौकरियों में जो इंसान घूसखोरी कर रहा था, उसको बचाने कोर्ट जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल आतंकवादियों को शरण दे रही है।
चुनाव आयोग के पास शिकायत लेकर पहुंची टीएमसी
शनिवार को सीबीआई और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के बम दस्ते के संदेशखाली में छापेमारी की शिकायत टीएमसी ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी के पास दर्ज कराई है। जिसमें टीएमसी का आरोप है कि सीबीआई ने छापेमारी करने से पहले राज्य सरकार, पुलिस प्रशासन को कार्रवाई को नोटिस जारी नहीं किया।

टीएमसी की मांग है कि चुनाव आयोग तत्काल दिशा-निर्देश जारी करें, ताकि चुनाव की अवधि के दौरान राजनीतिक दलों और उनके पदाधिकारियों के खिलाफ सीबीआई या अन्य कोई जांच एजेंसी कार्रवाई न करे।

पश्चिम बंगाल में  42 सीटों पर लोकसभा चुनाव होना है। लोकसभा चुनाव सभी सात चरणों में मतदान होना है। 1 जून को चुनाव समाप्त होगा।

Second phase of Mahaparva: 13 राज्यों की 88 सीटों पर 68.49 फीसदी वोटिंग, पूर्वोत्तर, हिंदी बेल्ट में उत्साह

Second phase of Mahaparva: 13 राज्यों की 88 सीटों पर 68.49 फीसदी वोटिंग, पूर्वोत्तर, हिंदी बेल्ट में उत्साह

Second phase of Mahaparva: असम और प. बंगाल में कुछ जगहों पर ईवीएम में खराबी और फर्जी वोटिंग की शिकायतें मिलीं। वहीं, कर्नाटक में दो गुटों के बीच झड़प में एक ईवीएम तोड़ दी गई. कुछ छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा। छत्तीसगढ़ के 46 गांवों के मतदाताओं ने पहली बार मतदान किया.

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में 12 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश की 88 सीटों के लिए शुक्रवार शाम छह बजे तक 68.49% मतदान हुआ। सात राज्यों में मतदान 70% से अधिक रहा। त्रिपुरा में सर्वाधिक 79.66% मतदान हुआ। राजस्थान को छोड़कर हिंदी बेल्ट में मतदान को लेकर उत्साह नजर नहीं आया।
कर्नाटक में दो गुटों की झड़प में एक ईवीएम तोड़ दी गई। कुछ छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा। छत्तीसगढ़ के 46 गांवों के मतदाताओं ने पहली बार मतदान किया। भीषण गर्मी के बीच सुबह सात बजे से शुरू हुए मतदान को लेकर पूर्वोत्तर में उत्साह दिखा। त्रिपुरा में सर्वाधिक 79.66% लोगों ने मताधिकार का उपयोग किया। वहीं मणिपुर में 78.78% और असम में 77.35% वोटिंग हुई। छत्तीसगढ़ में 75.16%, कर्नाटक में 68.47%, केरल में 70.21%, बिहार में 57.81%, मध्य प्रदेश में 58.26%, महाराष्ट्र में 59.63%, राजस्थान में 64.07% और प. बंगाल में 73.78% मतदान हुआ। चुनाव आयोग की ओर से अंतिम आंकड़े जारी होने पर इनमें कुछ बदलाव संभव है।

राहुल गांधी, राजीव चंद्रशेखर, अरुण गोविल की किस्मत ईवीएम में कैद
    • दूसरे चरण में राहुल गांधी, शशि थरूर, अरुण गोविल, केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर, कर्नाटक के उप मुख्यमंत्री डीके शिवकुमार के भाई डीके सुरेश की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई है।
    • एचडी कुमारस्वामी, हेमा मालिनी, ओम बिरला और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत भी मैदान में हैं।
    • वायनाड में राहुल का मुकाबला भाकपा की एनी राजा और भाजपा के सुरेंद्रन से है। तिरुवनंतपुरम में शशि थरूर और चंद्रशेखर में मुकाबला है।

यूपी की 8 सीटों पर 55 फीसदी वोटिंग

    • उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर 54.85% मतदान हुआ। अमरोहा में सबसे अधिक 64.02% व मथुरा में सबसे कम 49.29% मतदान हुआ। वहीं, बुलंदशहर में 55.79, मेरठ में 58.70, बागपत में 55.93, गौतमबुद्धनगर में 53.21, गाजियाबाद में 49.65 आैर अलीगढ़ में 56.62% वोटिंग हुई।

छत्तीसगढ़ के 46 गांवों में पहली बार मतदान

    • छत्तीसगढ़ के बस्तर व कांकेर के 46 गांवों के मतदाताओं ने पहली बार मतदान किया। इसके लिए इनके गांवों में ही 102 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इन मतदान केंद्रों पर कमजोर जनजातीय समूह, बुजुर्ग मतदाताओं के लिए विशेष सुविधाएं मुहैया कराई गईं।

कर्नाटक : एक बूथ पर 100% मतदान

    • कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले के बेलथांगडी तालुक के गांव बंजारुमले में 100 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। यहां कुल मतदाताओं की संख्या 111 है। भीषण गर्मी के बावजूद आदिवासी और वनवासी किसानों ने आठ किमी दूर बनाए गए मतदान केंद्र पर जाकर अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।

केरल समेत 13 राज्यों में चुनाव पूरा

    • दूसरे चरण के मतदान के साथ ही केरल, राजस्थान व त्रिपुरा समेत 13 राज्यों में मतदान की प्रक्रिया खत्म हो गई है। इस चरण में केरल की सभी 20, राजस्थान की 13 व त्रिपुरा की एक सीट पर मतदान हुआ। पहले चरण में राजस्थान की 25 में से 12 और त्रिपुरा की 2 में से एक सीट पर मतदान हुआ था। इन राज्यों के अलावा पहले चरण में ही तमिलनाडु (39 सीटों), उत्तराखंड (5), अरुणाचल (2) मेघालय (2), अंडमान और निकोबार (1), मिजोरम (1), नगालैंड (1), पुडुचेरी (1), सिक्किम (1) और लक्षद्वीप (1 सीट) में मतदान की प्रक्रिया पूरी हो गई थी।

त्रिपुरा : सांसद चुनने के लिए पहली बार ब्रू मतदाताओं ने किया मतदान

     त्रिपुरा के ब्रू मतदाताओं के लिए आम चुनाव एक अलग खुशी लेकर आया। इन मतदाताओं ने पहली बार लोकसभा चुनाव के लिए शुक्रवार को अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। गोमती जिले के तीर्थमुख क्षेत्र के गोएनांग पारा मतदान केंद्र पर सैकड़ों ब्रू मतदाताओं ने लोकतंत्र के महापर्व में भागीदारी कर खुशी जताई। इससे पहले ब्रू वोटर्स ने पिछले साल मार्च में हुए विधानसभा चुनाव में मतदान किया था। ब्रू प्रवासी 2020 तक उत्तरी त्रिपुरा जिले के छह राहत शिविरों में रहते थे। पर, अब उन्हें राज्यभर में 12 स्थानों पर स्थायी ठिकाना मिल गया है

 

DC VS GT: दिल्ली कैपिटल्स की जीत पर पंत ने खोला बड़ा राज, बताया कैसे संभव हुआ सब कुछ

DC VS GT: दिल्ली कैपिटल्स की जीत पर पंत ने खोला बड़ा राज, बताया कैसे संभव हुआ सब कुछ

DC vs GT: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 40वें मैच में दिल्ली कैपिटल्स ने अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम गुजरात टाइटंस पर 4 रन से जीत दर्ज की। दिल्ली के अरुण जेटली मैदान पर खेले गए इस मैच में काफी हंगामा हुआ. एक समय ऐसा लग रहा था कि गुजरात टाइटंस यह मैच आसानी से जीत जाएगी, लेकिन ऋषभ पंत की शानदार कप्तानी और सूझबूझ भरी गेंदबाजी के सामने विरोधियों के मंसूबे अधूरे रह गए। जीत के बाद दिल्ली कैपिटल्स की अंक तालिका में काफी सुधार हुआ और वह 8 अंकों के साथ छठे स्थान पर पहुंच गई।

ऋषभ पंत ने खोला टीम की जीत का राज

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ऋषभ पंत ने टीम की जीत पर एक बड़ा खुलासा किया। उन्होंने एनरिक नॉर्किया की जगह आखिरी ओवर रसिख सलाम को क्यों दिया, जिसे लेकर बड़ी बात कही है। ऋषभ पंत ने कहा कि एक कप्तान के तौर पर आपको इस तरह के फैसले लेने पड़ते हैं।

कभी इसके नतीजे अच्छे आते हैं तो कभी खराब। आगे कहा कि मुझे खुशी है कि मेरा ये फैसला आज काम कर गया, जब हमारी टीम ने 43 रन पर 3 विकेट गंवा दिए थे तब हमें आगे बढ़ना था। मैंने साई के साथ मिलकर स्पिनरों को टारगेट किया। हमारी प्लानिंग यही थी कि अगर कोई बड़ा शॉट आ जाता है तो ठीक है नहीं तो हमें स्ट्राइक रोटेट करते रहना होगा।

उन्होंने कहा कि एनरिक नॉर्किए के लिए ये मैच मुश्किल साबित हो रहा था, इसलिए मैंने उन्हें नहीं चुना। अपनी बल्लेबाजी को लेकर कहा कि मैं हर दिन जब भी मैच में होता हूं तो बेहतर महसूस करता हूं। मैदान पर हर घंटा मायने रखता है। मुझे मैदान पर रहना पसंद है। मैं अपना 100 प्रतिशत देने की कोशिश करता हूं।

दिल्ली कैपिटल्स ने बनाए 124 रन

पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली कैपिटल्स ने 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 224 रन बनाए। सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शाह का बल्ला खामोश रहा, जो 11 रन बनाकर चलते बने। जेक फ़्रेज़र-मैकगर्क भी ज्यादा कुछ नहीं कर सके। वे 14 गेंदों पर 23 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। ऊपर बल्लेबाजी करने आए अक्षर पटेल ने पारी को संभालते हुए ताबड़तोड़ तरीके से 43 गेंदों पर 66 रन बनाए। शाई हॉप ने 5 रन बनाए। ऋषभ पंत और ट्रिस्टन स्टब्स ने नाबाद रहते हुए क्रमश: 88, 26 रन बनाए।

आरती सिंह के हाथों में सजी पिया के नाम की मेहंदी, ननद कश्मीरा शाह ने ननद की शादी की खुशी में किया डांस.

आरती सिंह के हाथों में सजी पिया के नाम की मेहंदी, ननद कश्मीरा शाह ने ननद की शादी की खुशी में किया डांस.

आरती सिंह मेहंदी सेरेमनी की तस्वीरें वायरल: मशहूर टीवी एक्ट्रेस आरती सिंह शादी के बंधन में बंधने के लिए तैयार हैं। उनकी मेहंदी सेरेमनी से जुड़ी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं.
आरती सिंह की मेहंदी सेरेमनी की तस्वीरें खूब वायरल हुईं

Arti Singh mehendi Photos Viral: मशहूर टीवी एक्ट्रेस आरती सिंह शादी के बंधन में बंधने के लिए तैयार हैं. कल आरती सिंह ने अपने होने वाले पति दीपक चौहान के नाम की मेहंदी रचाई. इस खास मौके पर आरती सिंह और पूरे परिवार की खुशी देखने लायक थी. आरती सिंह की मेहंदी सेरेमनी में उनके परिवार के साथ-साथ उनके करीबी दोस्त भी शामिल हुए। मेहंदी से जुड़ी आरती सिंह की कई तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. तो आइए एक नजर डालते हैं आरती सिंह और दीपक चौहान की मेहंदी सेरेमनी की इन तस्वीरों पर-

पर्पल आउटफिट में खूबसूरत लगीं आरती सिंह

​आरती सिंह ने मेहंदी सेरेमनी के खास मौके पर पर्पल कलर का ट्रेडिशनल आउटफिट पहना, जिसमें उनका लुक तारीफ के काबिल लगा।​

होने वाले पति संग दिखीं आरती सिंह

आरती सिंह मेहंदी सेरेमनी में होने वाले पति के साथ नजर आईं। इस दौरान दोनों की खुशी देखने लायक थी। मेहंदी पर आरती और दीपक ने ट्विनिंग की हुई थी।

आरती सिंह ने मेहंदी पर दिखाया स्वैग

आरती सिंह स्वैग के साथ हाथ में पिया के नाम की मेहंदी लगवाती नजर आईं। उनके गॉगल्स ने लुक में चार चांद लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

आरती सिंह ने दोस्त के साथ दिया पोज

टीवी की चर्चित एक्ट्रेस अपर्णा दीक्षित ने आरती सिंह की गोद में बैठकर पोज दिया। एक्ट्रेस ने फोटो शेयर कर आरती को बधाइयां भी दीं।

दोस्तों संग मस्ती करती दिखीं दुल्हनिया

आरती सिंह मेहंदी सेरेमनी में दोस्तों के साथ भी मस्ती करती नजर आईं। मेहंदी लगवाते वक्त भी आरती सिंह का थिरकना नहीं रुक रहा था।

ननद की शादी में कश्मीरा शाह ने किया खूब एंजॉय

ननद आरती सिंह की शादी में कश्मीरा शाह ने एंजॉय करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। सेरेमनी में भी उन्होंने ग्लैमर का तड़का लगाया।

समंदर किनारे लगी आरती के हाथों में मेहंदी

आरती सिंह की मेहंदी और हल्दी सेरेमनी की तस्वीरें देखकर कहा जा सकता है कि एक्ट्रेस इस लम्हे को खास बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहीं। एक्ट्रेस के हाथों में मेहंदी भी बीच किनारे लगी।

ननद की शादी के लिए एक्साइटेड हैं कश्मीरा शाह

बता दें कि कश्मीरा शाह और आरती सिंह की बॉन्डिंग काफी अच्छी है। ऐसे में उन्होंने भी अपनी ननद की शादी में चार चांद लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है।

मेहंदी में थिरकती दिखीं कश्मीरा शाह

आरती सिंह की मेहंदी सेरेमनी में कश्मीरा शाह थिरकती नजर आईं। बता दें कि संगीत में भी कश्मीरा ने रंग जमाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

Ind vs Pak: भारत के साथ द्विपक्षीय सीरीज को लेकर PCB प्रमुख का बयान, रखी ये शर्त

Ind vs Pak: भारत के साथ द्विपक्षीय सीरीज को लेकर PCB प्रमुख का बयान, रखी ये शर्त

 

 

Ind vs Pak: हाल ही में जब भारतीय कप्तान रोहित शर्मा से पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय सीरीज खेलने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने इस मामले में अच्छारवैया अपनाया. अब इसे लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) प्रमुख मोहसिन नकवी ने भी अपनी राय रखी है.

भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज को लेकर एक बार फिर चर्चा शुरू हो गई है. हाल ही में जब भारतीय कप्तान रोहित शर्मा से पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय सीरीज खेलने को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने इस संबंध में सकारात्मक रवैया अपनाया. अब इसे लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) प्रमुख मोहसिन नकवी ने भी अपनी राय रखी है. नकवी ने कहा है कि अगर भारत अगले साल आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के लिए अपनी टीम पाकिस्तान भेजता है तो पीसीबी उसके साथ द्विपक्षीय सीरीज खेलने को तैयार है.

‘विकल्पों पर विचार करने को तैयार’

न्यूज एजेंसी पीटीआई के अनुसार, लाहौर में एक कार्यक्रम में पत्रकारों से बात करते हुए नकवी से भारतीय कप्तान रोहित शर्मा के हालिया साक्षात्कार के बारे में पूछा गया जिसमें उन्होंने पाकिस्तान क्रिकेट टीम की प्रशंसा की थी और कहा कि दोनों पड़ोसी देशों का विदेश में टेस्ट सीरीज खेलना शानदार होगा। नकवी ने कहा, देखिए, अगर इस संबंध में कोई विकल्प आता है तो हम उस पर विचार करेंगे लेकिन अभी हमारा लक्ष्य चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी करना है और पहले भारत को टूर्नामेंट के लिए आने देना है। फिलहाल चैंपियंस ट्रॉफी तक कोई समय उपलब्ध नहीं है क्योंकि हमारी टीम का यात्रा कार्यक्रम तय हो चुका है। एक बार वे पहले यहां आ जाएं तो जब भी कोई प्रस्ताव हमारे सामने आएगा, हम उस पर विचार कर सकते हैं।
आखिरी बार 2012-13 में खेली थी सीरीज
भारत और पाकिस्तान की टीमों ने पिछली बार 2012-13 में सीमित ओवरों की द्विपक्षीय सीरीज खेली थी जब पाकिस्तान ने भारत का दौरा किया था, लेकिन भारत ने 2007 के बाद से पाकिस्तान के खिलाफ कोई भी टेस्ट खेलने से इनकार कर दिया है जब दोनों टीम भारतीय सरजमीं पर आपस में भिड़ी थीं। राजनीतिक कारणों के चलते लंबे समय से दोनों टीमों के बीच द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली जा रही है। दोनों टीमें सिर्फ आईसीसी टूर्नामेंट में ही एक दूसरे से खेलती हैं। भारत ने पिछले साल वनडे विश्व कप के ग्रुप चरण के मुकाबले में पाकिस्तान को हराया था। दोनों टीमों के बीच इस साल जून में होने वाले टी20 विश्व कप के दौरान भी मैच खेला जाना है। पिछले साल भारत ने पाकिस्तान में एशिया कप मैचों के लिए अपनी टीम भेजने से इनकार कर दिया था और अंततः एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) को इस प्रतियोगिता के लिए एक हाइब्रिड मॉडल अपनाना पड़ा था जिसके तहत अधिकांश मैचों का आयोजन श्रीलंका में हुआ था। नकवी ने फरवरी में दुबई में आईसीसी बैठक के दौरान भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह से मुलाकात की थी।
हाल ही में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने एक पॉडकास्ट के दौरान रोहित से पूछा था कि क्या भारत और पाकिस्तान के बीच नियमित रूप से मैच होना टेस्ट क्रिकेट के लिए फायदेमंद रहेगा? इस पर रोहित ने कहा था, मेरा मानना है कि वे अच्छी टीम है। अगर हम बाहर खेलें तो उनकी गेंदबाजी लाइन अप बेहतर है। दोनों टीमों के बीच आखिरी बार टेस्ट 2007-08 में खेला गया था। हां, मैं पाकिस्तान के खिलाफ खेलना पसंद करूंगा। दोनों टीमों के बीच अच्छा मुकाबला होता है। हम उनके खिलाफ आईसीसी टूर्नामेंट में खेलते हैं। नियमित रूप से क्रिकेट होना पसंद करूंगा।
Exit mobile version