/ सोलर पैनल: कम कीमत पर 10 किलोवाट का सोलर पैनल लगवाने का बढ़िया मौका! शायद अब ऐसा मौका न मिले -

सोलर पैनल: कम कीमत पर 10 किलोवाट का सोलर पैनल लगवाने का बढ़िया मौका! शायद अब ऐसा मौका न मिले

सोलर पैनल:

सोलर पैनल: कम कीमत पर 10 किलोवाट का सोलर पैनल लगवाने का बढ़िया मौका! शायद अब ऐसा मौका न मिले

सोलर पैनल:

सोलर पैनल: आजकल सोलर बिजली का इस्तेमाल अप्रत्याशित रूप से बढ़ रहा है, सोलर पैनल का इस्तेमाल सूरज की बिजली से बिजली बनाने के लिए किया जाता है, सोलर पैनल पर्यावरण के अनुकूल तरीके से ऊर्जा पैदा करते हैं, इनके इस्तेमाल से बिजली का बिल कम आता है। सोलर पैनल का इस्तेमाल हर तरह के इलाके में किया जा सकता है।

10 किलोवाट का सोलर पैनल

10 किलोवाट का सोलर पैनल रिहायशी इलाकों या व्यावसायिक इलाकों के लिए कारगर माना जाता है, इस क्षमता का सोलर पैनल एक दिन में 40 से 45 यूनिट बिजली पैदा करता है। इस क्षमता का सोलर पैनल लगाने के लिए 850 वर्ग फीट जगह की जरूरत होती है। आप अपनी जरूरत के हिसाब से ऑन-ग्रिड या ऑफ-ग्रिड सोलर डिवाइस लगवा सकते हैं। इससे आप बिजली के बिल में भी बचत कर सकते हैं।

10 किलोवाट की ऑन-ग्रिड सोलर मशीन की कीमत

10 किलोवाट की क्षमता वाली ऑन-ग्रिड सोलर मशीन में सोलर पैनल से पैदा होने वाली ऊर्जा ग्रिड के साथ शेयर की जाती है, जिससे बिजली का बिल आसानी से कम हो सकता है। इस सोलर डिवाइस में पैनल से उत्पन्न ऊर्जा को ग्रिड के साथ साझा किया जाता है, इस डिवाइस में सोलर पैनल, सोलर इनवर्टर मुख्य सिस्टम हैं, मशीन में साझा की गई बिजली की गणना करने के लिए इंटरनेट-मीटरिंग की जाती है। 10 किलोवाट की ऑनग्रिड मशीन लगाने की लागत करीब पांच लाख रुपये से 5.50 लाख रुपये तक हो सकती है। इस पर आपको 78 हजार की सब्सिडी मिल सकती है।

10 किलोवाट ऑफग्रिड सन सिस्टम चार्ज

ऑफग्रिड सिस्टम में पैनल से उत्पन्न बिजली को बैटरी में सेव किया जा सकता है, इस मशीन में सोलर पैनल, सोलर इनवर्टर और सन बैटरी मुख्य उपकरण हैं, ग्राहक अपनी जरूरत के हिसाब से सन बैटरी में सेव की गई बिजली का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस सोलर डिवाइस को लगाने की कुल लागत करीब 7 लाख रुपये से 8 लाख रुपये तक हो सकती है। ऐसे सिस्टम में बिजली बैकअप की सुविधा मिलती है।

सन पैनल लगाने से पर्यावरण को स्वच्छ और सुरक्षित रखा जा सकता है, साथ ही यह डिवाइस बिजली बिल को कम करने में भी मदद करती है